कैप्टन सरकार नशे पर नकेल डालने के लिए समय-समय पर ढिंढोरा पीटने का ढोंग करती रही है- शिरोमणि अकाली दल

कैप्टन सरकार नशे पर नकेल डालने के लिए समय-समय पर ढिंढोरा पीटने का ढोंग करती रही है- इंद्र सेखड़ी
 
बटाला, 2 अगस्त  (संजीव नैयर/अविनाश) 
 
बीते दिनों शहर के हाथी गेट में जहरीली शराब पीने से हुई कई लोगों की मौत का दुख प्रकट करते हुए शिरोमणि अकाली दल प्रदेश उपाध्यक्ष इंदर सेखड़ी ने पत्रकारों को कहा इन मौतों का जिम्मेदार पुलिस प्रशासन व पंजाब सरकार है। पिछले कई वर्षों से इस क्षेत्र में नाजायज शराब बेचने का गोरख धंधा कुछ लोगों द्वारा किया जा रहा है, लेकिन पुलिस प्रशासन मूकदर्शक बनकर सब देख रहा है, उन्होंने आगे कहा कैप्टन सरकार नशे पर नकेल डालने के लिए समय-समय पर ढिंढोरा पीटने का ढोंग करती रही है।
 
लेकिन नकेल डालने की बजाय यह कारोबार नशे का कारोबार करने वाले माफिया गिरोह द्वारा बेखौफ होकर किया जा रहा है। इन्दर सेखड़ी  ने कहा कि सीएम कैप्टन अपने मनोरजंन में ही व्यस्त रहते है। यहीं कारण है कि बटाला में दूसरा बड़ा घटना कैप्टन सरकार में हुआ है। सेखड़ी पंजाब सरकार पर बरसते हुए कहा कि इससे पहले कैप्टन सरकार व गुरदासपुर के प्रशासन की नाकामी की वजह से पटाखा फैक्टरी में बम ब्लास्ट हुआ था। तब भी करीब 24 लोगों की मौत हुई थी और दर्जनों लोग गंभीर रूप से घायल हुए थे।
 
इंदर  सेखड़ी   ने कहा कि तब भी कैप्टन सरकार ने मामले को रफा -दफा करने के लिए मेजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए थे। जिसके परिणाम स्वरूप कुछ छोटे प्रशासनिक अधिकारियों पर कारवाई कर मामले को दबा दिया गया था। मैं सीएम कैप्टन को याद दिलाना चाहता हूं कि अकालीदल अपने बटाला वासियों के साथ किसी तरह का नांइसाफी नही होने देगी। पंजाब के विभिन्न शहरों में जहरीली शराब से मौत होने वालों में बटाला के भी लोग है। इन्दर ने कहा कि जिन लोगों की मौत हुई है उनके घरों की आर्थिक स्थिती काफी दयनीय है। सेखड़ी ने कहा कि  वह कैप्टन सरकार से मांग करते है कि इस त्रासदी की मार झेल रहे  परिवारों को 20- 20 लाख रूप्ये मुआवजा और उनके परिवारिक सदस्यों को सरकारी नौकरी भी दें।
 
 
 
Attachments area
 
 
 
Advertisements

Related posts

Leave a Reply