पिस्तौल की नोक पर वरना कार छीनने वाले गिरोह के तीन सदस्य गिरफ्तार,गाड़ी भी बरामद

(जानकारी देते हुए गुरदासपुर के एसएसपी राजेंद्र सिंह सोहल व अन्य)

वारदात के समय इस्तेमाल पिस्तौल, कारतूस व पल्सर भी बरामद 

गुरदासपुर, 15 सितंबर ( अश्वनी )गत दिनों गुरदासपुर- पठानकोट नेशनल हाईवे पर गांव बरियार बाईपास से पिस्तौल के बल पर कार छीनने वाले गिरोह के तीन सदस्यों को गुरदासपुर पुलिस ने गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। इस संबंधी थाना दीनानगर की पुलिस ने 4 सितंबर को मामला दर्ज किया था। 

जानकारी देते हुए गुरदासपुर के एसएसपी राजेंद्र सिंह सोहल ने बताया कर 4 सितंबर को पुलिस चौकी बरियार के अधीन पड़ते एक रेस्टोरेंट के पास नकाबपोश हथियारबंद लोगो की ओर से ड्राइवर को गोली मार जख्मी कर वरना गाड़ी को छीन लिया गया  था। इस संबंधी लूटेरों के साथ पल्सर मोटरसाईकल पर सवार होकर फरार होने में सफल हो गए थे। 
वहीं पुलिस की ओर से पूरी चौकसी बरती गई। उनकी ओर से एसपी (डी) हरविंदर सिंह संधू, डीएसपी (डी) राजेश कक्कड़ की निगरानी में पुलिस टीमों का गठन करके छीनी गई कार आरोपितों की तलाश शुरू कर दी गई । आरोपियों की ओर से कार को पिछले दिनों लावारिस हालत में श्री हरगोविंदपुर के पास छोड़ दिया गया था। जिसे  दीनानगर पुलिस की ओर से बरामद कर लिया गया था।

पुलिस द्वारा अहम सबूतों के आधार पर इस वारदात ने अब तक कुल 6 लोगों को नामजद किया गया था। जिनसे लगातार पूछताछ करने पर पता चला कि आरोपियों के पास उस दिन पल्सर मोटरसाइकिल के इलावा आई 20 कार भी थी। उक्त लोगों से की गई पूछताछ के आधार पर थाना दीनानगर के प्रभारी इंस्पेक्टर कुलविंदर सिंह ने समेत पुलिस टीम इनमें से तीन आरोपियों कुलदीप सिंह उर्फ लाली पुत्र अजीत सिंह वासी अमृतसर रोड बाईपास बटाला, धर्मेंद्र सिंह उर्फ मीता पुत्र जसवंत सिंह वासी गांव भाटिटयां, पीटर मसीह पुत्र जोगिंदर मसीह निवासी कोटला गुजरा को वारदात में इस्तेमाल की गई आई 20 कार समेत गिरफ्तार कर लिया गया।वहीं इनसे वारदात में इस्तेमाल किया गया पिस्तौल 32 बोर समेत दस राउंड, 1 पल्सर मोटरसाइकिल भी बरामद किया गया। 

आरोपियों की आपराधिक पुष्टभूमि संबंधी एसएसपी सोहल ने बताया कि इन आरोपियों में से धर्मेंद्र सिंह उर्फ मीता हत्या के केस में जेल में रहा था तथा इस पर दो मुकदमे दर्ज हैं। जो कुछ समय पहले ही जमानत पर बाहर आया है ‌। आरोपी पीटर मसीह पर डाका मारने चोरी व झगड़ों के तीन मुकदमे विभिन्न थानों मे दर्ज है। पूछताछ के दौरान आरोपियों ने स्वीकार कियाा है कि उन्होंने अपने साथियों के साथ मिलकर बटाला में दो और वारदातें भी की है। जो अभी तक अन ट्रेस चल रही है।
एसएसपी ने बताया कि आरोपियों की पूछताछ चल रही है और शेष आरोपियों को भी जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Related posts

Leave a Comment