एक परिवार के पांच लोगों की मौत कैसे हुई, पिता और पुत्र जहां घर में फंदे से लटकते पाए गए, वहीं घर की तीन महिलाओं का शव अधजली अवस्‍था में बरामद

छत्तीसगढ  : छत्तीसगढ के दुर्ग जिले से दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। यहां एक परिवार के पांच लोगों के शव मिलने से पूरे इलाके में सनसनी में फैल गई है। यह जानने की कोशिश की जा रही है कि आखिर इन पांच लोगों की मौत कैसे हुई। दुर्ग रेंज आईजी  सिन्हा ने बताया कि राम बृज गायकवाड़, उनकी पत्नी जानकी बाई, बेटा संजू, बेटी ज्योति और दुर्गा का शव बरामद किया गया है।

पिता और पुत्र जहां घर में फंदे से लटकते पाए गए, वहीं घर की तीन महिलाओं का शव अधजली अवस्‍था में बरामद किया गया। घर से एक ‘सुसाइड नोट’ भी बरामद किया गया है, जिसके आधार पर आशंका जताई जा रही है कि उन्‍होंने शायद खुशीकुशी की।

 पुलिस  ने  बताया कि पाटन थाना क्षेत्र के बठेना गांव में शवों की बरामदगी की गई है। स्‍थानीय लोगों की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची तो राम बृज और उसके बेटे को टीन की छत वाले मकान में एक लोहे की छड़ के सहारे फंदे से लटकता पाया।

वहीं पुलिस ने छानबीन शुरू की तो घर की तीन महिलाओं के शव पास में ही खेत से अधजली अवस्‍था में बरामद किए गए। ग्रामीणों की मदद से इनकी पहचान राम बृज की पत्नी और उनकी बेट‍ियों के तौर पर की गई। पुलिस को घटनास्थल से एक पत्र भी मिला है, जिसमें आर्थिक तंगी और पैसों की लेन देन का जिक्र है। 

शुरुआती जांच के आधार पर पुलिस ने आशंका जताई है कि पिता और बेटे ने पहले तीनों महिलाओं की हत्या कर उनके शव को करीब ही पुआल में जला दिया और फिर फंदे से लटकर खुद भी जान दे दी। पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

Related posts

Leave a Comment